जलेसर की दरगाह

Updated: Feb 3, 2021

जलेसर की दरगाह का एक छोटा सा वीडियो।(यह विडियो फरवरी के समय पूर्णमासी के आसपास रात मे शूट किया गया था।)

जब यह विडियो बनाया था तब उर्स नही चल रहा था तो बहुत शांति थी। इस विडियो मे उस एकांत वाले भाव को कैप्चर करने की कोशिश की गई है। दरगाह की क्या फील होती है बस यही दर्शाया है।


दरगाह, उर्स और इसकी ख्यातनाम के बारे में जानकारी: जलेसर की दरगाहों में शनिवार को होने वाली प्राचीन छोटे मियां-बड़े मियां की जियारत देशभर में प्रसिद्ध है। कोई इन्हें छोटे सरकार-बड़े सरकार बुलाता है तो कोई मीर व जैन खां बाबा की जियारत। वहीं कुछ लोग इसे मामा-भांजे की जियारत भी कहते हैं। यूं तो हर समय छोटे मियां-बड़े मियां की जियारत करने जायरीन यहां आते हैं। पर अषाढ़ के महीने में बात ही कुछ अलग है, इस पीरियड में जायरीनों की संख्या एक लाख तक पहुंच जाती है।


साभार:

दरगाह, उर्स और इसकी ख्यातनाम के बारे में जानकारी: दैनिक जागरण की लोकल न्यूज कवरेज़ से जुटाई गई है।

(वाया गूगल)


1,067 views0 comments